MP Election Results 2023: शिवराज की लाड़ली बहना योजना बनी गेम चेंजर, जानिए कब आयेगी अगली किस्त

हालही में मध्यप्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़, मिजोरम एवं तेलंगाना में विधानसभा चुनाव का परिणाम आया है, जिसमें मध्यप्रदेश, राजस्थान एवं छत्तीसगढ़ में भाजपा ने बहुमत के साथ जबरदस्त जीत हासिल की है. मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के लिए यह योजना एक गेम चेंजर साबित हुई है आइये जानते हैं कैसे.

शिवराज सरकार की यह योजना बनी गेम चेंजर

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी ने इस साल की शुरुआत में राज्य की महिलाओं के लिए एक योजना शुरू की थी, जिसके तहत महिलाओं को हर महीने 1,000 रूपये दिए जा रहे थे. इस योजना का नाम है लाड़ली बहना योजना. 2 महीने बाद इस योजना में संशोधन कर दिया गया. जिसके तहत महिलाओं को अब हर महीने 1,250 रूपये दिए जा रहे हैं. इस योजना के तहत यह घोषणा की गई है कि धीरे-धीरे इस योजना के अमाउंट को बढ़ाया जायेगा, जोकि प्रतिमाह 3,000 रूपये तक जायेगा. इस योजना के बाद ही शिवराज सिंह चौहान को इस साल के विधानसभा चुनाव में प्रचंड जीत हासिल हुई है. इसलिए इस योजना को शिवराज सिंह चौहान के लिए गेम चेंजर कहा जा रहा है. इसके साथ ही इस योजना को शिवराज सिंह चौहान का ट्रम्प कार्ड भी माना जा रहा है.

लाड़ली बहना आवास योजना मध्यप्रदेश

अभी कितने मिल रहे हैं पैसे    

आपको बता दें कि मध्यप्रदेश लाड़ली बहना योजना का लांच मार्च महीने में किया गया था, लेकिन इस योजना की शुरुआत जून महीने से की गई. जी हां जून 2023 से लाभार्थी महिलाओं के खाते में 1,000 रुपये आना शुरू हुए. 3 महीने 1,000 रूपये मिलने के बाद इस अमाउंट को बढ़ा दिया गया. अब महिलाओं को हर महीने 1,250 रूपये दिए जा रहे हैं. इसके अनुसान महिलाओं को हर साल लगभग 15,000 रूपये की वित्तीय मदद मिल रही है. यह राशि हर महीने की 10 तब्रिख को लाभार्थी के बैंक खाते में ट्रांसफर की जाती है. आने वाले समय में यह राशि 3,000 रूपये प्रतिमाह होगी जैसा कि मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने घोषणा की थी. तो उस हिसाब से महिलाओं के खाते में हर साल 36,000 रूपये आएंगे.

किसे मिल रहा है लाभ

मध्यप्रदेश में शुरू हुई लाड़ली बहना योजना का लाभ मध्यप्रदेश की मूल निवासी सभी जाति की ऐसी महिलाओं को मिल रहा है जोकि शादीशुदा है और उनकी उम्र 21 साल से 60 साल के बीच है. और साथ ही ऐसी महिलाएं जोकि आर्थिक रूप से कमजोर है यानि जिनके परिवार की सालना आय 2.5 लाख रूपये से कम है एवं जिनके पास 5 एकड़ या उससे कम की जमीन है वे भी इसके लिए पात्र है. इन सब के अलावा ऐसी महिलाएं जोकि विवाहित होने के बाद, विधवा हो गई है या तलाकशुदा हैं या फिर परित्यक्ता है उन्हें भी इसका लाभ दिया जा रहा है.   

गांव की बेटी योजना मध्यप्रदेश

कैसे मिल रहा है लाभ

लाभार्थी महिलाओं को इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन करना होता है. तभी उन्हें इसका लाभ मिलता है. आवेदन करने के लिए सरकार द्वारा अधिकारिक पोर्टल भी लांच किया गया है. जिस पर लाभार्थी महिलाएं जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकती हैं. साथ ही आपको बता दें कि सरकार ने इसके लिए ऑफलाइन सुविधा भी शुरू की है. जी हां लाभार्थी महिलाएं अपने ग्राम पंचायत, वार्ड कार्यालय या सरकार द्वारा समय-समय पर आयोजित किये गए कैंप में जाकर आवेदन फॉर्म प्राप्त कर सकती हैं और उसे भरकर वहीँ जमा भी कर सकती हैं. इस तरह से उन्हें इस योजना का लाभ मिल सकता है. 

जानिए ज्योतिरादित्य सिंधिया ने क्या कहा

भाजपा की जबरदस्त जीत के बाद केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि भाजपा की इस जीत का श्रेय शिवराज सिंह चौहान की लाड़ली बहना योजना को जाता है, यह योजना एक गेम चेंजर योजना साबित हुई है. इसके साथ ही उन्होंने शिवराज सिंह चौहान को इस प्रचंड जीत के लिए बहुत-बहुत बधाई भी दी है.

मध्यप्रदेश लखपति बहना योजना

तो इस तरह से मध्यप्रदेश में शिवराज सिंह चौहान की जीत की वजह लाड़ली बहना योजना को बताया जा रहा है. राज्य में महिला सशक्तिकरण की दिशा में यह एक महत्वपूर्ण कड़ी है. शिवराज सिंह चौहान ने जीत के बाद यह भी कहा कि महिलाओं को अब लखपति बनने की दिशा में कदम बढ़ाया जायेगा.

अन्य पढ़ें –

Leave a Reply